Home » खेलकूद » कबड्डी विश्व कप-2016 : पहले ही मैच में भारत की चौंकाने वाली हार

कबड्डी विश्व कप-2016 : पहले ही मैच में भारत की चौंकाने वाली हार

👤 A2ZNews Channel | Updated on:2016-10-08 05:13:49.0

कबड्डी विश्व कप-2016 : पहले ही मैच में भारत की चौंकाने वाली हार

Share Post

अहमदाबाद ! एरेना ट्रांसस्टाडिया में शुक्रवार को जो हुआ उसकी उम्मीद शायद किसी भी भारतवासी ने नहीं की होगी। खिताब की सबसे बड़ी दावेदार मानी जा रही एशियाई और मौजूदा विश्व चैम्पियन भारतीय टीम को कबड्डी विश्व कप के अपने पहले ही मैच में दक्षिण कोरिया के हाथों चौंकाने वाली हार मिली। दक्षिण कोरिया ने लगभग 20 हजार जुनूनी भारतीय प्रशंसकों के सामने उन्हीं की टीम को ग्रुप-ए मुकाबले में 34-32 से हराया। मध्यांतर तक भारतीय टीम 18-13 से आगे थी। मध्यांतर के बाद कोरियाई टीम ने अपने खेल में जबरदस्त सुधार किया और भारत को दोयम साबित करते हुए 21 अंक हासिल किए जबकि भारतीय टीम इस दौरान सिर्फ 14 अंक हासिल कर सकी।

इस मैच में भारत की शुरुआत ही अच्छी नहीं रही। अपने साथियों के लगातार चार रेड बेकार जाने के बाद कप्तान अनूप कुमार ने छठे मिनट में भारत के लिए पहला सफल रेड लगाया। वैसे उससे पहले कोरिया के जांग कुन ली एक सफल रेड लगा चुके थे। भारत ने मैच के अंत तक औसत दर्जे का खेल दिखाया और हार को मजबूर हुई।

पहले हाफ में दोनों टीमें 7-7 से बराबरी पर थीं। भारत ने स्कोर 8-7 किया लेकिन दक्षिण कोरिया ने एक बार फिर 9-9 से बारबरी कर ली। इसके बाद मेहमान टीम भारत पर हावी नहीं हो पाई। पहले हाफ में भारत ने मेहमानों पर 18-13 से बढ़त ले ली थी।

दक्षिण कोरिया ने दूसरे हाफ में पहले हाफ से बेहतर प्रदर्शन किया। उसने आते ही दो अंक अर्जित किए। लेकिन, भारत ने लगातार तीन अंक लेते हुए स्कोर 21-15 कर लिया।

इसके बाद दक्षिण कोरिया ने दमदार वापसी की और स्कोर 26-28 कर भारत को चौंका दिया। और फिर हार न मानते हुए उसने भारत को 30-29 से पीछे कर दिया।

मेजबान अभी सोच रहे थे कि वह वापसी कर लेंगे लेकिन कोरियाई टीम ने बढ़त लेने के बाद अपनी पकड़ और मजबूत की और 34-32 से मुकाबला जीत कर ही दम लिया।

इस मैच को देखने पहुंचे लगभग 20 हजार दर्शकों को निराशा हाथ लगी जबकि एक दर्जन के करीब कोरियाई दर्शकों की खुशी देखने लायक थी। गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपानी और अभिनेता तथा प्रो कबड्डी लीग की जयपुर पिंक पैंथर्स टीम के मालिक अभिषेक बच्चन भी निराश होने वालों में शामिल रहे।

मैच के बाद अनूप ने स्वीकार किया कि उनकी टीम खराब खेली। अनूप ने कहा कि हम खराब खेले और कोरियाई टीम अच्छा खेली, इसलिए हम हार गए। परिणाम हमारे मनमाफिक नहीं रहा, इसकी हमें भी निराशा है। हार तो हार है। हमने गलतियां कीं लेकिन कोरियाई टीम ने हमसे कम गलतियां कीं।

भारत के लिए कप्तान ने सबसे अधिक नौ अंक जुटाए जबकि मंजीत चिल्लर ने पांच अंक हासिल किए। इसमें एक सुपर टैकल शामिल है। राहुल चौधरी और प्रदीप नरवाल को तीन-तीन अंक मिले।

इस मैच के सुपरस्टार कोरिया के जांग कून ली रहे, जिनके नाम 10 अंक दर्ज हैं। डोंग गियोंग ली ने छह अंक पाए जबकि योंग चांग कू को पांच अंक मिले। इसमें एक सुपर टैकल शामिल है।

कोरियाई कप्तान डोंग जू होंग ने कहा कि उनकी टीम को प्रो कबड्डी में खेलने वाले खिलाड़ियों से काफी फायदा मिला है और उनकी टीम ने विश्व कप की तैयारी के दौरान बार-बार भारतीय खिलाड़ियों का खेल देखा था, इसका फायदा भी उसे हुआ है।

बहरहाल, भारत हार से शुरुआत करेगा, यह किसी ने नहीं सोचा होगा। अब भारतीय टीम को अपने दूसरे मैच में 8 अक्टूबर को आस्ट्रेलिया से भिड़ना है। इस मैच के जीतकर भारतीय टीम पहले कुछ अंक अपने खाते में डालना चाहेगी।

Like Us
Share it
Top