Home » धर्म समाचार » फेंगशुई का उपयोग स्टडी रूम में रखें 'नमक का पानी'

फेंगशुई का उपयोग स्टडी रूम में रखें 'नमक का पानी'

👤 A2ZNews Channel | Updated on:2017-01-11 11:38:51.0

फेंगशुई का उपयोग स्टडी रूम में रखें नमक का पानी

Share Post

फेंगशुई का उपयोग आज कल बहुत तेजी से बढ़ गया है। खासकर लोग इनको अपनी समस्याओं के समाधान के लिए ज्यादा प्रयोग करते हैं। फेंगशुई का प्रयोग हम एकाग्रता बढ़ाने के लिए भी कर सकते हैं, जानते हैं कैसे?

# अपनी स्टडी रूम में हरे पर्दों का प्रयोग करें।

# स्टडी रूम या घर में कहीं टूटे खिलौने हैं, तो उन्हें तुरंत हटा दें, क्योंकि इनसे उत्पन्न नकारात्मक ऊर्जा नाक, कान, गला व आंख के इंफेक्शन का कारण होती है।

# स्टडी रूम व घर में कहीं भी बंद घडिय़ां नहीं होनी चाहिए, क्योंकि ये नकारात्मक ऊर्जा उत्पन्न करती हैं और अगर किसी कारण से आप इन्हें फेंकना या बेचना नहीं चाह रहे हैं तो इन्हे ठीक करा लें।

# अपनी टेबल पर ग्लास, क्रिस्टल की वस्तुएं रखें, जैसे कांच केहनुमान जी, गणेश जी, पिरमिड, प्रिज्म और एजुकेशन टावर रखें.

# सकारात्मक ऊर्जा और पढ़ाई में एकाग्रता के लिए पढ़ाई के कमरे के दक्षिण-पूर्व कोने में मनी प्लांट लगाएं तथा उत्तर-पूर्वदिशा में फिश एक्वेरियम रखें।

# स्टूडेंट्स अपनी स्टडी टेबल पर ईशान कोण में ग्लास हैंडीक्राफ्ट की मूर्ति रखें। इससे शिक्षा और ज्ञान में वृद्धि होती है व अपेक्षित परिणाम मिलते हैं। उनके मित्र भी सक्रिय होकर उनकी मदद करते हैं।

# स्टूडेंट्स अपनी पूर्व की दीवार साफ-सुथरी रखें। हरा बल्ब,हरा पौधा, हरा पिरामिड पूर्व में रखें। बैंबू प्लांट भी रख सकते हैं।

# स्टडी रूम के लिहाज से पूर्व या उत्तर-पूर्व दिशा का कमरा बेहतर माना जाता है। साथ ही अगर बच्चा ईशाण कोण या उत्तरपूर्वदिशा की ओर मुंह करके पढ़ता है तो परिणाम बेहतर होंगे। ऐसे में कमरे की इस दिशा में क्वाट्र्ज क्रिस्टल को रखें। इससे सकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह बना रहेगा।

Like Us
Share it
Top