Home » धर्म समाचार » कांडकुर गांव में लगता है यह अजीबोगरीब मेला

कांडकुर गांव में लगता है यह अजीबोगरीब मेला

👤 A2ZNews Channel | Updated on:2017-01-11 09:10:54.0

कांडकुर गांव में लगता है यह अजीबोगरीब मेला

Share Post

कर्नाटक के यादगिर जिले के कांडकुर गांव में एक अजीबोगरीब मेला लगता है। इस मेले का नाम है बिच्छू मेला। यह मेला देवी कोंडामाई के मंदिर प्रांगण में लगता है। वैसे तो यह मेला नागपंचमी पर लगता है। लेकिन मंदिर में देवी के भक्तों का तांता सालभर रहता है।

कोंडामाई देवी के इस मंदिर में लोग तेलंगाना, आंध्र प्रदेश और महाराष्ट्र से आते हैं, और जाते समय मां के आशीर्वाद के रूप में खुशियों को ले जाते हैं।

लोगों की आस्था का आलम यह है कि वे ह मंदिर में मौजूद बिच्छुओं को पकड़ कर अपने हाथों और पीठ पर उन्हें चलने पर मजबूर कर देते हैं। ऐसे में बिच्छू भक्तों को काट भी लेते हैं। तब वह मंदिर के द्वारा ही दिया जाने वाले हल्दी के लेप से उपचार करते हैं।

आस्था का हैरान कर देने वाला यह अकेला मंदिर नहीं हैं। भारत में ऐसे कई मंदिर हैं जहां लगने वाले मेलों में या किसी त्योहार पर हैरान कर देने वाले घटनाक्रम को देखा जा सकता है।

Like Us
Share it
Top